आत्मा में बोना, शरीर में नहीं
अनंत काल में कोई पछ्तावा न रहे

 वक्ता :    जैक पूनन
पूरा नजरिया : 4,293

Sowing To The Spirit And Not To The Flesh
Having No Regrets In Eternity